Daesh News

केपटाउन में 55 रनों पर सिमटी साउथ अफ्रीका की टीम, भारत ने खेली शानदार पारी

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच केपटाउन में खेला गया. जहां अफ्रीकी टीम ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी. लेकिन अफ्रीकी बल्लेबाज अपने कप्तान के इस फैसले को सही साबित नहीं कर सके और पूरी अफ्रीकी टीम पहले दिन और पहले ही सेशन में केवल 55 रन पर ऑलआउट हो गई. सेंचुरियन टेस्ट की पहली पारी में जहां साउथ अफ्रीका ने 408 रन का स्कोर किया था तो केपटाउन पहुंचते ही हालत पतली हो गई. मोहम्मद सिराज की कहर ढाती गेंद से आगे पूरी टीम महज 55 रन के स्कोर तक ही पहुंच पाई.

साउथ अफ्रीका की टीम हुई धाराशायी

इस मैच में अपना आखिरी टेस्ट खेल रहे दक्षिण अफ्रीका के कार्यवाहक कप्तान डीन एल्गर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. उनका यह फैसला भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने पूरी तरह से गलत साबित किया. साउथ अफ्रीका के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच हारने के बाद बराबरी का इरादा लेकर उतरी टीम इंडिया ने गजब ढाया. सेंचुरियन टेस्ट में जिस गेंदबाजी की पिटाई हुई उसी ने यहां कहर ढाया. मोहम्मद सिराज ने अकेले दम पर मेजबान टीम का दम निकाल दिया. अपने घर पर खेलते हुए साउथ अफ्रीका की टीम टेस्ट में सबसे छोटे स्कोर पर सिमट गई.

मोहम्मद सिराज ने ढाया कहर

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज की आग बरसाती गेंद ने साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया. टॉप के 7 में से 6 बल्लेबाजों का शिकार अकेले सिराज ने किया. टेस्ट में अपनी सबसे बेहतरीन गेंदबाजी कर टीम इंडिया के लिए वापसी का मौका बनाया. 9 ओवर में महज 15 रन देकर इस गेंदबाज ने 6 बड़े विकेट अपने नाम किया. टेस्ट में इससे पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ एक पारी में 60 रन देकर 5 विकेट सिराज का बेस्ट था.

सिराज ने अकेले झटके 6 विकेट

टीम इंडिया के तीन तेज गेंदबाजों ने मिलकर साउथ अफ्रीका की पूरी बैटिंग लाइन अप को तहस नहस कर दिया. मोहम्मद सिराज ने इसमें सबसे बड़ी भूमिका निभाई और अकेले ही 6 विकेट झटक लिए. रही सही कसर जसप्रीत बुमराह के साथ मिलकर मुकेश कुमार ने कर दी. अनुभवी बुमराह ने 25 रन देकर 2 विकेट झटके जबकि मुकेश ने 2.2 ओवर में बिना रन दिए 2 सफलता हासिल की. मुकेश दुनिया के महज तीसरे गेंदबाज हैं जिनके खाते में बिना रन लुयाए दो विकेट चटकाए.

कुछ ऐसी थी दोनों टीमों की प्लेइंग - 11

बात करें मैच के प्लेइंग इलेवन की तो, भारत की ओर से रोहित शर्मा, यशस्वी जायसवाल, शुभमन गिल, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, केएल राहुल, रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज, प्रसिद्ध कृष्णा और मुकेश कुमार थे. इधर, साउथ अफ्रीका की ओर से प्लेइंग इलेवन में डीन एल्गर, एडेन मार्करम, टोनी डी जोरजी, ट्रिस्टन स्टब्स, डेविड बेडिंघम, काइल वेरिन, मार्को जानसेन, केशव महाराज, कगिसो रबाडा, नांद्रे बर्गर और लुंगी एनगिडी शामिल थे.