Daesh News

सेमीफाइनल में आमने-सामने होगी टीम इंडिया और न्यूजीलैंड, अंपायर्स ने बढ़ा दी है चिंता

वर्ल्ड कप 2023 में भारतीय टीम का विजय रथ जारी है. अब तक के सभी मैचों में से एक भी मैच में भारतीय खिलाड़ियों को मुंह की खानी नहीं पड़ी है और अब भारतीय खिलाड़ियों की नजर सेमीफाइनल मैच पर है. दरअसल, भारत का सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से सामना होगा. टीम इंडिया विश्व कप 2023 का पहला सेमीफाइनल मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेलेगी. भारत को वनडे विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था. लेकिन अब भारत के पास हिसाब बराबर करने का मौका है.

टीम इंडिया का पलड़ा दिख रहा भारी 

गौर करने वाली बात यह है कि, सेमीफाइनल मैच के लिए टीम इंडिया का पलड़ा भारी है तो न्यूजीलैंड भी कम नहीं है. वैसे आईसीसी टूर्नामेंट्स में कीवी प्लेयर्स भारतीय टीम पर हावी रहे हैं लेकिन पिछले मुकाबले में टीम इंडिया ने इस भ्रम को तोड़ दिया था. ऐसे में दोनों ही टीमें बराबरी की टक्कर वाली कही जा सकती है. 15 नवंबर के दिन जो टीम अपना सर्वश्रेष्ठ देगी, जीत उसी की मुठ्ठी में होगी. 

अंपायर्स ने बढ़ा दी है चिंता

वहीं, भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच होने वाले सेमीफाइनल मैच को लेकर एक और खास बात यह भी है कि इस मैच के दो फील्ड अंपायर्स हैं, जो भारत के लिए सबसे दुर्भाग्यशाली अंपायर्स में से हैं. दरअसल, इस मैच में रोड टकर और रिचर्ड इलिंगवर्थ फील्ड अंपायर्स होंगे. वहीं, जोएल विल्सन थर्ड और एड्रियन होल्डस्टॉक फॉर्थ अंपायर्स की भूमिका निभाएंगे, जबकि एंडी पाइक्राफ्ट इस मैच के मैच रैफरी होंगे. इस मैच के दोनों फील्ड अंपायर्स भारत के लिए अनलकी साबित हुए हैं. हम आपको याद दिला दें कि, 2019 के वर्ल्ड कप में हुए भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच सेमीफाइनल मैच में भी रिचर्ड इलिंगवर्थ ही फील्ड अंपायर थे, और टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा था. वहीं रोड टकर उस मैच के थर्ड अंपायर थे, जिन्होंने महेंद्र सिंह धोनी को रन आउट करार दिया था, और वही मैच धोनी के अंतरराष्ट्रीय करियर का आखिरी मैच भी साबित हुआ. हालांकि, इस बार क्या कुछ होता है, वह तो देखने वाली बात होगी.

दोनों टीम के खिलाड़ियों की तैयारी 

इधर, भारत और न्यूजीलैंड दोनों टीमों ने वर्ल्ड कप 2023 के सेमीफाइनल मुकाबले के लिए अपने-अपने स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी है. सोमवार को जहां टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ ने अपने साथी स्टाफ सदस्यों के साथ पिच का जायजा लिया, वहीं न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों ने तीन घंटे से भी ज्यादा समय तक अभ्यास सेशन में हिस्सा लिया. हालांकि इस दौरान भारतीय टीम के खिलाड़ी प्रैक्टिस सेशन से दूर रहे. दरअसल, टीम इंडिया ने रविवार को ही नीदरलैंड्स के खिलाफ मैच खेला था. ऐसे में सोमवार को प्रैक्टिस सेशन रखना खिलाड़ियों को थका देने वाला साबित हो सकता था.

बारिश हो गई तब क्या होगा ?

इस मैच को लेकर एक सवाल यह भी क्रिकेट फैंस के जहन में आ रहा कि, अगर सेमीफाइनल या फिर फाइनल मैच में बारिश हो जाती है तो फिर क्या होगा ? तो इस मामले में आईसीसी ने कंफर्म किया है कि दोनों सेमीफाइनल मैच और फाइनल मैच के लिए एक-एक दिन का रिज़र्व-डे रखा गया है. यदि सेमीफाइनल और फाइनल मैच में बारिश होती है तो उस मैच को उसके अगले दिन पूरा किया जाएगा. 15 नवंबर को भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच होने वाले सेमीफाइनल मैच का रिज़र्व-डे 16 नवंबर को होगा. ठीक यही कंडीशन अन्य मैचों के लिए भी होगा. इसके अलावे अगर रिज़व-डे के दिन भी मैच का नतीजा नहीं निकल पाता है तो अंक तालिका में सबसे ऊपर रहने वाली टीम को फायदा मिलता है. तो 15 नवंबर को सेमीफाइनल मैच में टीम इंडिया और न्यूजीलैंड की टक्कर होगी. देखना दिलचस्प होगा कि, भारतीय खिलाड़ियों का विजय रथ जारी रहता है या नहीं.