Daesh News

तेजस्वी यादव ने पूरे देश में की जातीय गणना कराने की मांग, कह दिया बहुत कुछ

2 अक्टूबर को जातीय गणना के आंकड़े जारी कर दिए गए. जिसके बाद से लगातार बवाल मचा हुआ है. आंकड़ों को लेकर ताबड़तोड़ बयानबाजी जारी है. इस बीच डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार को जबरदस्त घेर लिया. जातीय गणना को लेकर जब पत्रकारों द्वारा डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव से सवाल किया गया तब उन्होंने कहा कि, केंद्र सरकार को पूरे देश में जातीय गणना कराना चाहिए. इससे देश की दशा और दिशा बदल सकती है, जैसे बिहार में जातीय गणना करने के बाद सामाजिक उत्थान करने की दिशा में पहल की गई है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि, चुनाव में भी पार्टियां राज्यों में जाति आधारित गणना कराने का वादा कर रही हैं. यह काम तो मानवता के लिए हुए है. सरकार के पास साइंटिफिक डेटा होने चाहिए, जिसके अनुसार योजनाएं बनाई जा सकें. हम लोग तो कई बार मांग कर चुके हैं. जो लोग आपत्ति कर रहे हैं उन लोगों को तो पीएम से बोलकर पूरे देश भर में जातीय गणना करानी चाहिए, यहां तो जनगणना भी नहीं हो रही है. कौन सी स्थिति में आबादी है ? इसकी तो जानकारी होनी चाहिए. इसके अनुसार ही तो सरकार काम करेगी. प्रियंका गांधी की मांग का हमलोग स्वागत करते हैं.

तेजस्वी यादव ने यह भी कहा कि, जो भाजपा के नेता क्षेत्रीय दल को समाप्त करने की बात कर रहे हैं वह खुद ही समाप्त हो रहे हैं. उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के बयानों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, जो लोग क्षेत्रीय दल को खत्म करने की बात कर रहे हैं वह खुद ही समाप्त हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि, दक्षिण बिहार में एनडीए का जो सबसे बड़ा एलायंस पार्टनर था, उसने साथ छोड़ दिया. बता दें कि, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने एलान किया कि छत्तीसगढ़ में फिर से कांग्रेस सरकार बनते ही हम जाति जनगणना करवाएंगे. सीएम भूपेश बघेल ने ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी. कांकेर में जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस छत्तीसगढ़ में दोबारा सरकार बनाती है तो हम बिहार की तरह राज्य में भी जातीय गणना कराएंगे.