Daesh News

गुरुजी की हत्या कर संपत्ति हड़पने के लिए छोटे भाई ने शूटर को 3 लाख की सुपारी दी..

SAHARSA-जमीन और पैसे के लालच में छोटे भाई ने अपने बड़े सह स्कूली शिक्षक की हत्या तीन लाख की सुपारी देकर करवा दी, इसमें आरोपी को अपने पिता का भी साथ मिला, पर पुलिस की जांच में साजिश का खुलासा हो गया. हत्या करने वाले शूटर के साथ ही मृतक का छोटा भाई भी गिरफ्तार हो गया है.

 पूरे मामले का खुलासा करते हुए जिले के एसपी हिमांशु ने बताया कि 31 मई को तकरीबन 6.30 बजे सहरसा से सफाबाद, बरियाही स्थित स्कूल जा रहे शिक्षक सरोज कुमार गुप्ता  को बाइक सवार अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी । घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को जब्त कर तत्काल पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजकर अनुसंधान शुरू कर दिया। मृतक के पत्नी के आवेदन पर मामला दर्ज किया गया था ।   एसडीपीओ सदर के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। इस टीम में डीएसपी मुख्यालय 1-2,साइबर डीएसपी के अलावे अन्य पुलिस अधिकारी शामिल थे और इनलोगों के द्वारा वैज्ञानिक अनुसंधान,सीसीटीवी कैमरा एवं अन्य सूत्र से घटना उद्भेदन करते हुए हत्या में शामिल अपराधियों सहित साजिशकर्ता भाई को गिरफ्तार कर लिया.

 एसपी ने खुलासा करते हुए कहा कि हत्या के बाद पुलिस टीम ने वैज्ञानिक अनुसंधान,सीसीटीवी कैमरा एवं अन्य सूत्र से प्राप्त सूचना के आधार दो शूटर अंशुमन कुमार एवं सिंटू सिंह को गिरफ्तार किया ।इन दोनों ने पूछताछ करने पर बताया कि अमर रंजन एवं उसके पिता बालमुकुंद गुप्ता ने तीन लाख का सुपाड़ी सरोज कुमार को मारने का दिया था जिसमे एक लाख अग्रिम एवं दो लाख काम के बाद देने का था और यह प्लानिंग दो तीन महीने पहले से चल रहा था। इसी आधार पर दो और लोग जिसमे एक मृतक का छोटा भाई अमर रंजन एवं शूटर से डील करवाने वाला शेटर मिंटू सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया गया। इनके पास से हत्या में प्रयुक्त बाइक एवं चार गोली सहित पिस्टल व मोबाइल बरामद किया गया।

 एसपी ने घटना की वजह पारिवारिक जमीनी विवाद बताया है । इस मामले का एक अभियुक्त मृतक का पिता बालमुकुंद गुप्ता फरार है जिसे शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 सहरसा से नीरज की रिपोर्ट

Scan and join

Description of image