Daesh News

बिहार के मदरसा की शिक्षा व्यवस्था में होगा बदलाव, कमेटी गठित..

PATNA- अब बिहार के मदरसा में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप साइंस एवं आधुनिक विषयों की भी पढ़ाई होगी. इसके लिए विभागीय मंत्री के  निर्देश पर शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है.

 शिक्षा विभाग ने मदरसा शिक्षा संरचना के अध्ययन एवं सिफारिश के लिए पांच सदस्यीय समिति का गठन किया है. यह समिति मदरसा शिक्षा की वर्तमान संरचना का अध्ययन कर इसे राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप बनाने एवं विज्ञान मानविकी समेत आधुनिक विषयों के निमित्त पाठ्यक्रम जारी करने के लिए अनुशंसा करेगी. इस समिति को एक माह का समय दिया गया है.

 इस पांच सदस्यीय समिति में बिहार लोक सेवा आयोग के भूतपूर्व अध्यक्ष इम्तियाज अहमद करीमी को अध्यक्ष बनाया गया है, और चार विशेषज्ञ को समिति का सदस्य बनाया गया है. इनमें यूनिसेफ पटना के सलाहकार सैयद अब्दुल मोइन, आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय के भूतपूर्व संकाय अध्यक्ष ज्ञानदेव मनी त्रिपाठी, तुर्की अध्यापक शिक्षा महाविद्यालय के प्राचार्य डॉक्टर इम्तियाज आलम और मधुबनी मदरसा इस्लामिया के  वरीय शिक्षक मोहम्मद अनिसुर रहमान है.

 बताते चलें कि मदरसा के संचालन में सरकार की तरफ से आर्थिक सहयोग दिया जाता है. यहां की पढ़ाई को लेकर कई बार सवाल उठाते रहे हैं. बीजेपी के कई नेता मदरसा की शिक्षा पर सवाल उठाते रहे हैं. अब इन मदरसों में परंपरागत शिक्षा के साथ ही आधुनिक विषयों की पढ़ाई की पहल शिक्षा विभाग ने शुरू की है और इसके लिए कमेटी बनाई गई है.

Scan and join

Description of image