Daesh News

अभी नहीं मिलेगी ठंड से निजात, भीषण शीतलहर के साथ पछुआ हवा चलने का पूर्वानुमान

बिहार में अभी लोगों को ठंड से निजात नहीं मिलने वाली है. राजधानी पटना का न्यूनतम तापमान पहली बार इस साल 6 डिग्री के नीचे तक पहुंच गया है. जिसको लेकर लागातार लोगों से एहतियात बरतने की अपील की जा रही है. इसके साथ ही बच्चों के स्कूल भी 23 जनवरी तक के लिए बंद कर दिए गए थे. लोगों से गर्म पेय पदार्थों के ग्रहण करने की अपील की जा रही है और ज्यादा जरुरी होने पर ही घर से बाहर निकलने की सलाह दी जा रही है. इस बीच मौसम विज्ञान केंद्र पटना ने आज यानि कि मंगलवार को पटना समेत कई जिलों में भीषण शीतलहर के साथ पछुआ हवा के चलने की संभावना जताई है. 

मौसम विभाग का पूर्वानुमान 

इसके साथ ही पूर्वानुमान जारी किया गया है कि, पटना समेत कई जिलों में घना कुहासा छाए रहेंगे. हालांकि, आज कहीं बारिश का अनुमान है. पटना, नालंदा, बेगूसराय, नवादा, गया, जहानाबाद, वैशाली, सारण, औरंगाबाद, कैमूर और बक्सर में शीतलहर का प्रभाव देखने को मिल सकता है. मौसम विभाग के मुताबिक, पटना, गया, नालंदा समेत कई जिलों में सुबह 10 से 11 बजे तक घना कुहासा छाए रहने का पूर्वानुमान है. इसके साथ ही दिन के अधिकतम तापमान में गिरावट देखी जा सकती है. आज कई जिलों के न्यूनतम तापमान में गिरावट होने की संभावना है. अगले तीन दिनों तक अधिकतम तापमान और न्यूनतम तापमान में कोई विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है. इन तीन दिनों में न्यूनतम तापमान 6 से 8 डिग्री के बीच हो सकता है. 

सोमवार को कैसा रहा तापमान

वहीं, बात करें सोमवार के दिन की तो सोमवार को न्यूनतम तापमान में गिरावट देखने के लिए मिली. 27 जिलों के दर्ज रिकॉर्ड में 20 जिलों का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे रहा. सबसे कम न्यूनतम तापमान गया में 4.1 डिग्री सेल्सियस रहा. वहीं राजधानी पटना की बात करें तो यहां 5.5 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया. सोमवार को जिन जिलों में 10 डिग्री से तापमान नीचे रहा उनमें गया, कैमूर, पटना, दरभंगा, फारबिसगंज, मोतिहारी, जमुई, वैशाली, समस्तीपुर, अगवानपुर, भागलपुर, छपरा, बक्सर, औरंगाबाद, नवादा और डेहरी शामिल हैं. इन जिलों में सुबह के समय कुहासा भी छाया रहा. सोमवार को सबसे अधिक तापमान मोतिहारी में 20 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.