Daesh News

बाबा का दर्शन करने के लिए मुजफ्फरपुर से भागी तीन नाबालिग छात्रा का मथुरा में मिला शव..

DESK:- मुजफ्फरपुर स्थित अपने घर से भाग कर  बाबा का दर्शन करने के लिए तीन नाबालिक छात्राओं का शव उत्तर प्रदेश के मथुरा से मिला है. इनमें से दोस्त देशों की पहचान परिजनों द्वारा कर ली गई है जबकि तीसरे की पहचान के लिए परिवार के लोग पुलिस के साथ मुजफ्फरपुर से मथुरा के लिए रवाना हुए हैं. तीनों की मौत की सूचना के बाद परिवार और आसपास के इलाकों में मातम का माहौल है.

 बताते चलें कि 13 मई को मुजफ्फरपुर से तीन नबालिग लड़कियां गायब हो गई थी। इस दौरान गायब तीनों ने घर में पत्र छोड़ा था। पत्र में लिखा था कि बाबा ने बुलाया है। भक्ति के लिए हिमालय जा रहे हैं। किसी ने तलाश करने या वापस बुलाने की कोशिश की तो तीनों खुदकुशी कर लेंगी। पत्र में छात्राओं ने लिखा था तीन माह बाद 13 अगस्त को तीनों बाबा से मिलकर खुद वापस आ जाएंगी। छात्राओं के परिजनों ने 14 मई को पुलिस को आवेदन दिया, पर स्थानीय पुलिस ने मामला दर्ज करने में लापरवाही की और SSP के निर्देश के बाद नौ दिन बाद मामले की एफआईआर दर्ज की गई थी.

 इस बीच रविवार को UP की मथुरा पुलिस को तीन नाबालिग छात्राओं का शव बरामद हुआ था. उनकी पहचान के लिए मथुरा रेल पुलिस ने मुजफ्फरपुर रेल पुलिस को तीनों का फोटो भेजा. इसके बाद मुजफ्फरपुर पुलिस ने परिजनों को थाने बुलाकर फोटो की पहचान करवाई. तीन में से दो की पहचान कर ली गई है.योगियामठ की दोनों छात्राओं के परिजनों ने फोटो से उनकी पहचान कर ली। आठवीं की छात्रा की पहचान चेहरे से और नौवी की छात्रा की पहचान कपड़े से की गई है। वहीं, तीसरे शव को देखने के बाद बालूघाट इलाके की छात्रा के परिजनों ने उसे अपनी पुत्री का शव होने से इनकार किया है. इसके बाद मुजफ्फरपुर पुलिस परिजनों को लेकर मथुरा के लिए रवाना हो रही है.

 बाबा का दर्शन करने के लिए घर से भाग कर गई  इन तीन नाबालिग की हत्या हुई है या इन्होंने आत्महत्या की है या कुछ और भी वजह है, यह तो पुलिस जांच के बाद ही पता चल पाएगा.

Scan and join

Description of image