Daesh News

बिहार में जहरीली शराब से फिर 3 की मौत, एक की स्थिति गंभीर; मगर दरभंगा पुलिस का इनकार

दरभंगा. हायाघाट थाना क्षेत्र के मकसुदपुर गांव में कथित रूप से जहरीली शराब पीने से पांच व्यक्ति में से दो की मौत पहले ही हो गई थी. अब इलाज के दौरान DMCH में इलाज करवा रहे एक और व्यक्ति ने दम तोड़ दिया. मृतक के परिजन आरोप लगा रहे हैं कि इनकी मौत जहरीली शराब पीने से हुई है. बताया जा रहा है कि अभी दो और व्यक्ति पीड़ित हैं जिनमें एक की स्थिति गंभीर बनी हुई है.

बताया जाता है कि रविवार के दिन 5 लोगों ने एक साथ देसी शराब पी थी, जिसके बाद चारों की तबीयत खराब हो गई. इन्हें आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां एक के बाद एक तीन मौत हो चुकी है. आज जिस शख्स की मृत्यु हुई है उसका नाम लालटून सहनी बताया जा रहा है. इससे पहले रविवार को भुखल सहनी 52 वर्ष और संतोष कुमार दास 26 वर्ष की मौत हो गई थी. वहीं, इलाज के दौरान अब तीसरी मौत हो गई है. दो और लोग समस्तीपुर में इलाज करवा रहे हैं, जिसमें एक की स्थिति नाजुक होने पर DMCH लाया जा रहा है.

मृतक लालटून सहनी की बेटी पिता की मौत का कारण जहरीली शराब बता रही है. वहीं, पुलिस के शराब से मौत नहीं होने की बात पर पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कह रही है कि सभी की मिलीभगत से शराब की बिक्री होती है. वहीं, हायाघाट थानेदार संजय सिंह ने कहा है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है.

बता दें कि बिहार में वर्ष 2016 से पूर्ण शराबबंदी लागू है और शराब पीने और बेचने की सख्त मनाही है. बावजूद इस न तो शराब पीने वाले सुधरने का नाम ले रहे हैं और ना ही इसे बेचने वाले अपनी हरकतों से बाज आ रहे हैं. बिहार में जहरीली शराब की वजह से एक बार फिर मौतें हुईं हैं.