Daesh News

बालू कारोबारी के हत्या का वीडियो वायरल, सांसद रामकृपाल ने दी मामले में प्रतिक्रिया

राजधानी पटना से पालीगंज अनुमंडल के रानी तालाब थानाक्षेत्र के बेरर गांव निवासी सह बालू कारोबारी देवराज कुमार उर्फ लालू की हत्या के 7 दिन के बाद एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो के बारे में बताया जा रहा कि, वीडियो मृतक के गांव का है जहां हत्या से कुछ देर पहले यानी 5 नवंबर की देर शाम में पालीगंज डीएसपी प्रीतम कुमार के नेतृत्व में गांव में अवैध खनन को लेकर छापेमारी की जा रही थी. इसी दौरान मृतक के घर पर चढ़कर डीएसपी और उनके पुलिस की टीम के द्वारा मृतक के भाई पिंटू कुमार के साथ जबरन मारपीट और गाली-गलौज की गई. हालांकि, वायरल वीडियो की पुष्टि दर्श न्यूज नहीं करता है.

वहीं, जब वायरल वीडियो को लेकर पटना पश्चिम सिटी एसपी राजेश कुमार से बात की गई तो उन्होंने कहा कि, पुलिस को ऐसी सूचना थी कि गांव में अवैध खनन किया जा रहा है. इसके बाद पुलिस की टीम छापेमारी करने पहुंची थी. इसी में पिंटू कुमार और उसके थार वाहन को पकड़कर थाना लाया गया था. जिसके बाद पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया और जब उसके भाई देवराज छुड़ाने आए और छुड़ाकर घर जा रहे थे तभी थाना के पास उसकी हत्या कर दी गई. इधर, वीडियो सामने आने के बाद स्थानीय भाजपा सांसद रामकृपाल यादव वीडियो को देखकर पूरी तरह से भड़क गए.

इस दौरान रामकृपाल यादव ने कहा कि, यह कहां तक सही है जिस तरह से घर पर चढ़कर पुलिस के द्वारा उनके भाई की पिटाई की गई और उनके पिता और घर के महिलाओं के साथ मारपीट और अभद्र व्यवहार किया गया. यहां तक कि घर पर लगे थार वाहन को भी जब्त कर लिया गया. यह समझ नहीं आ रहा है कि थार में क्या अवैध बालू लोड था. हालांकि, वीडियो मैंने भी देखा है जिसको लेकर पटना एसएसपी से भी बात किया है और उचित कार्रवाई करने की मांग की है. घटना के बाद से गांव में पूरी तरह से आक्रोश है और डर का माहौल बना हुआ है. यहां तक कि जब पुलिस पिंटू को पकड़ कर थाना लाई और उसके बड़े भाई देवराज जब उसे छुड़ाकर घर जा रहे थे तभी थाना के सामने उनकी गोली मार कर हत्या कर दी गई.

दर्श न्यूज़ के लिए पटना से रोहित की रिपोर्ट