Daesh News

स्मार्ट फोन में कैमरे के पास बने छोटे से छेद का क्या होता है काम ? जानिए...

आज के युग में स्मार्ट फोन्स लोगों के लाइफ का एक अहम हिस्सा बन गया है. स्मार्ट फोन्स और इंटरनेट के बगैर लोगों को उनकी जिंदगी अधूरी-अधूरी लगती है. कुल मिलाकर कर देखा जाए तो ज्यादातर व्यक्ति अपने हर दिन का कम से कम 4 से 5 घंटे स्मार्ट फोन्स के साथ ही बिताते हैं. मार्केट में कौन से नए फोन्स आये या फिर किस तरह के नए फीचर्स के साथ नए अपडेट आये, इसे लेकर लोगों के बीच उत्सुकता आम तौर पर देखने के लिए मिलती है. स्मार्ट फोन के लुक को लेकर भी लोगों के बीच बेताबी देखी जाती है. लेकिन, क्या आपको स्मार्ट फोन्स को लेकर सभी जानकारियां है ? 

यह सवाल इसलिए उठ रहे हैं क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि, लोग फोन यूज तो कर रहे होते हैं लेकिन उसके पार्ट्स को लेकर उन्हें जानकारी नहीं होती. दरअसल, कई बार आपने नोटिस किया होगा कि, स्मार्ट फोन्स में उसके रियर कैमरे के पीछे एक छोटा सा छेद बना रहता है. कुछ लोगों को इस छेद को लेकर जानकारी होगी लेकिन ज्यादातर लोग इस छेद के होने का मकसद नहीं समझ पाते हैं. अलग-अलग स्मार्ट फोन्स में उसके हिसाब से बड़ा या छोटा छेद रहता है. तो हम आपको बताते हैं कि आखिरकार इस छेद का काम क्या होता है. सबसे पहले तो हम आपको क्लियर कर देते हैं कि, यह सिर्फ फोन के डिजाईन को लेकर नहीं दिया जाता है. बल्कि इसका अहम काम होता है.

दरअसल, यह छेद हमारे मोबाइल एक्सपीरियंस को बेहतर बनाता है. फोन में बना छोटा-सा छेद नॉइस कैंसिलेशन माइक्रोफोन होता है. यानी कि जब आप स्मार्टफोन पर किसी व्यक्ति से कॉल पर बात करते हैं तो जो आवाज आपके पीछे से आ रही है, उसे ये माइक्रोफोन कम करने का काम करता है ताकि आपकी आवाज दूसरे व्यक्ति तक एकदम साफ पहुंचे. स्मार्टफोन के निचले हिस्से जहां चार्जर लगता है वहां भी एक माइक्रोफोन दिया जाता है जिसके जरिए आपकी साफ आवाज व्यक्ति तक पहुंचती है. पीछे मौजूद नॉइस कैंसिलेशन माइक्रोफोन बैकग्राउंड नॉइस को एकदम कम करने का काम करता है ताकि कॉल में किसी भी तरह का डिस्टर्बेंस नहीं आए.