Daesh News

वाह ड्राइवर साहब वाह, आपने तो कमाल कर दिया...

BAGHA- लोको पायलट अजय यादव और रंजीत के कार्य की चौतरफा सराहना हो रही है. अपनी जान को खतरे में डालकर पुल पर ट्रेन का वैक्यूम ठीक करने वाले दोनों लोको पायलट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, आम लोगों की सराहना के साथ ही रेलवे ने इन्हें सम्मानित करने का फैसला किया है.

 पूरे घटनाक्रम की चर्चा करें तो गोरखपुर से  नरकटियागंज तक जाने वाली 05497 सवारी गाड़ी के इंजन में एयर लीकेज हो जाने के कारण ट्रेन वाल्मिकीनगर और पनियहवा के बीच में रुक गई। बताया जा रहा है कि जैसे ही ट्रेन वाल्मीकिनगर रोड स्टेशन से खुली UL वाल्व से लीकेज होने लगा, और गाड़ी KM–298/20 पुल संख्या 382 पर खड़ी हो गई। ट्रेन में बैठे लोगों में अफरा–तफरी का  माहौल बन गया। UL वाल्व पुल के बीचो बीच लीकेज हुआ था। ऐसे में उसे बंद करना चुनौती भरा काम था। इस आपातकालीन स्थिति में ट्रेन के लोको पायलट अजय यादव और सहायक लोको पायलट रंजीत कुमार ने साहस का परिचय देते हुए अपनी जान की परवाह किए बिना किसी तरह से पुल पर होते हुए ट्रेन के नीचे पहुंचे। जहां वाल्व को ठीक किया और सुरक्षित आगे के लिए यात्रा शुरू किए। इस साहस के लिए रेलवे प्रशासन के द्वारा दोनों को पुरस्कृत किया जाएगा।

जब इंजन में एयर लीकेज की समस्या आई और ट्रेन रुक गई, तो यात्रियों में हड़कंप मच गया। लेकिन लोको पायलट अजय यादव और रंजीत कुमार ने अपनी साहस दिखाते हुए तुरंत समस्या का समाधान खोजा। अपनी जान की परवाह किए बिना, उन्होंने इंजन को ठीक करने का कार्य किया, उनके इस साहसिक कार्य के लिए सम्मानित करते हुए रेलवे डिवीजन ने 10,000 रुपये की पुरस्कार राशि जारी की है।

 डीआरएम विनय श्रीवास्तव ने इस पुरस्कार की घोषणा करते हुए कहा कि अजय यादव और रंजीत कुमार की इस बहादुरी और कर्तव्यनिष्ठा के लिए हम सभी उनका धन्यवाद और सम्मान करते हैं।

 बगहा से अजय शर्मा की रिपोर्ट 

Scan and join

Description of image