Daesh News

राज्य में पेड़ लगाने पर मुफ्त में मिलेगी बिजली, जानिए सरकार की ये योजना

देश भर में जिस तरह से वायु प्रदूषण लगातार बढ़ता जा रहा है, उसे देखते हुए सरकार के द्वारा एक के बाद एक कदम उठाये जा रहे हैं. लोगों को ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. इसे लेकर कई तरह के हथकंडे भी अपनाये जा रहे हैं. इसी क्रम में झारखंडवासियों के लिए खुशखबरी है. दरअसल, झारखंड सरकार ने जो योजना चलाई है, उसे जानकर लोग गदगद हो जायेंगे. झारखंड सरकार के द्वारा 'पेड़ लगाओ, बिजली बिल में छूट पाओ' की योजना चलाई जा रही है. जिसके तहत लोगों के द्वारा पेड़ लगाये जाने पर उन्हें मुफ्त में बिजली मिलेगी. इतना ही नहीं, इसके तहत फरवरी महीने तक लोग नगर निकायों के दफ्तर में आवेदन कर सकेंगे. 

सिर्फ शहरी क्षेत्रों के लिए है यह योजना 

लेकिन, यहां गौर करने वाली बात है कि, यह योजना सिर्फ शहरी क्षेत्रों के लिए है, जिसमें पौधे लगाने वालों को प्रति पेड़ पांच यूनिट बिजली मुफ्त मिलेगी. यह लाभ अधिकतम पांच पेड़ के लिए मिलेगा, यानी एक उपभोक्ता पांच पेड़ों के एवज में 25 यूनिट तक की मुफ्त बिजली का लाभ ले सकेगा. इस योजना को सरकार ने जुलाई महीने में ही मंजूरी थी. बता दें कि, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एक साल पहले वन महोत्सव के दौरान घोषणा की थी कि शहरी क्षेत्रों में जो लोग अपने आवासीय परिसर में पेड़ लगाएंगे, उन्हें प्रति पेड़ पांच यूनिट बिजली पर सब्सिडी दी जाएगी. सरकार ने इस योजना को वित्तीय वर्ष 2023-24 से लागू करने की स्वीकृति दी है.

किन लोगों को मिलेगा योजना का लाभ ?

इस योजना को लेकर यह भी कहा गया है कि, यह लाभ निजी आवासीय परिसर में फलदार और बड़े छायादार वृक्ष लगाने पर ही मिलेगा. जब तक कैंपस अथवा घरों के परिसर में पेड़ रहेंगे, उपभोक्ताओं को बिजली बिल में छूट का यह लाभ मिलता रहेगा. इस योजना का उद्देश्य राज्य के शहरी क्षेत्रों में हरियाली को विकसित करना और पर्यावरण को स्वच्छ रखना है. वहीं, पेड़ की गणना को लेकर भी हम आपको बता दें कि, आवासीय परिसरों में लगाए गए पेड़ों की गणना नगर निकाय करेगा और इसकी सूची वन विभाग को सौंपी जाएगी. वन विभाग पेड़ों की सूची के आधार पर इसकी मॉनिटरिंग करेगी और पेड़ों की लंबाई चौड़ाई मापने के बाद इस योजना के योग्य लाभुकों की सूची बिजली विभाग को सौंपेगा.