Daesh News

औरंगाबाद पुलिस ने साइबर ठग गिरोह का किया उद्वेदन, नगदी के साथ कई गिरफ्तार

AURANGABAD- साइबर ठग गिरोह के खिलाफ औरंगाबाद पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है.  गिरोह के सरगना समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मामले में पुलिस ने औरंगाबाद में 15 लाख के हुए साइबर फ्रॉड का भी उद्भेदन किया है। गिरफ्तार सभी  पटना और हाजीपुर के निवासी है। इनके पास से पुलिस ने 6 मोबाईल फोन, 14 एटीएम कार्ड, 10 बैंक

पासबुक एवं 48,611 रुपये की नगदी बरामद की है।

औरंगाबाद की पुलिस कप्तान स्वपना गौतम मेश्राम ने बताया कि 18 मई को शहर के  सहादत हुसैन के साथ साइबर ठगों ने एक्सकैवेटर मशीन खरीदने के नाम पर 15 लाख की धोखाधड़ी की थी। इस मामले में औरंगाबाद साइबर थाना में भादंवि की धारा-416, 419, 420 एवं 66(डी) आईटी एक्ट-2000 के तहत प्राथमिकी संख्या-30/24 दर्ज की गई थी। मामले में उन्होंने त्वरित अनुसंधान के लिए साइबर थाना की पुलिस उपाधीक्षक डॉ. अन्नू कुमारी के नेतृत्व में एक विशेष टीम गठित की थी। इसी टीम ने तकनीकी एवं मानवीय अनुसंधान के करते हुए विभिन्न बैंक खातों की जांच की।

 खातों से मिले मोबाईल नम्बरों के एसडीआर, सीडीआर, स्मार्ट रिपोर्ट, टावर लोकेशन, बैंक ट्रांजेक्शन रिपोर्ट एवं जेएमआईएस पोर्टल के सहारे त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने गिरोह के सरगना समेत पांच साइबर ठगों को गिरफ्तार किया। गया है। गिरफ्तार साइबर ठग गरीब और भोले भाले लोगो से अवैध रूप से बैंक खाते खोलवाते थे। उन्ही के बैंक खातों के एटीएम से लेनदेन कर ठगी के पैसे की निकासी किया करते थे।

गिरफ्तार ठगों के खिलाफ चंडीगढ़, कोलकाता, झारखंड, पंजाब एवं अन्य राज्यों में भी एनसीआरपी पोर्टल पर शिकायत दर्ज है। पुलिस इन शिकायतों के साथ ही सायबर ठगों का पूरी क्राइम हिस्ट्री खंगाल रही है।

गिरफ्तार पांच साइबर ठगों में गिरोह का सरगना हाजीपुर निवासी अंशु कुमार, पटना के हनुमाननगर- कंकड़बाग निवासी मदन विश्वकर्मा, विक्की विश्वकर्मा, राजेंद्र मोड़ मेदिनी मुहल्ला निवासी ज्ञानेश्वर सिंह,  खेमनीचक निवासी हरेराम कुमार एवं कुम्हरार- चाणक्या नगर निवासी मनीष कुमार शामिल है।पुलिस ने इनके पास से 6 मोबाईल फोन,14 एटीएम कार्ड, 10 पासबुक एवं 48,611 रुपये नगदी बरामद की है। मामले का उद्भेदन करनेवाली पुलिस की टीम में टंडवा

थानाध्यक्ष पुलिस निरीक्षक रामजी प्रसाद, टंडवा थाना के परीक्ष्यमान पुलिस अवर निरीक्षक अमित कुमार, सहायक अवर निरीक्षक घनश्याम दूबे,

सिपाही रोहित कुमार, राजु कुमार एवं साइबर थाना की टेक्निकल टीम शामिल है।

 औरंगाबाद से गणेश की रिपोर्ट 

Scan and join

Description of image