Daesh News

बुरे फंसे BJP सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल, थाने में दर्ज हुआ FIR, जानिए मामला

राजधानी पटना में विधानसभा मार्च के दौरान बीजेपी सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल सुर्खियों में थे. इस बीच वे एक बार फिर से चर्चे में आ गए हैं और इस बार वे बुरी तरह से फंस गए हैं. दरअसल, छपरा में महाराजगंज से बीजेपी सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल पर बनियापुर थाने में एफआईआर दर्ज हुई है. इस मामले में केवल सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ही नहीं बल्कि उसनके साथ-साथ 16 और लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज हुई है. इसके अलावा कुछ अज्ञात पर भी केस दर्ज हुआ है. 

जनार्दन सिंह सिग्रीवाल पर लगा ये आरोप 

बता दें कि, जनार्दन सिंह सिग्रीवाल पर भीड़ को उकसाने का आरोप लगा है. सारण के पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गौरव मंगला ने विज्ञप्ति जारी कर इसके बारे में जानकारी दी है. जनार्दन सिंह सिग्रीवाल पर बनियापुर थाने में कांड संख्या 462/23 दर्ज की गई है. महाराजगंज के सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल पर मुकदमा दर्ज होने की खबर से अब सियासी पारा चढ़ गया है. बताया जा रहा कि, 25 अक्टूबर को बनियापुर थाना क्षेत्र में दुर्गा पूजा को लेकर कई जगहों पर मूर्ति विसर्जन को लेकर जुलूस निकाला गया था. इसमें डीजे का इस्तेमाल किया गया था. डीजे लदे दो ट्रैक्टर को पुलिस ने जब्त कर लिया था जिसे बनियापुर थाने में रखा गया था. सांसद के ऊपर आरोप लगाया गया कि, ट्रैक्टर को उनके इशारे पर थाना से जबरन ले जाया गया. थाना के सीसीटीवी के आधार पर इस मामले में सांसद को आरोपी बनाया गया है. जब घटना हुई तब सांसद थाना के बाहर अपनी गाड़ी में बैठे हुए थे. जबकि उनके समर्थक जबरन थाना से जब्त ट्रैक्टर को उठाकर ले गए.

प्रेस विज्ञप्ति में क्या है जानकारी ?

बताव दें कि, सारण एसपी गौरव मंगल ने महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल को लेकर प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि, विसर्जन के दौरान बिना लाइसेंस का विसर्जन किया जा रहा था. उस पर भी ध्वनि विस्तार किया जा रहा था, जिसको लेकर प्रशासन ने दो ट्रैक्टर को डीजे सहित जब्त किया गया था. थानाध्यक्ष अपनी विधि व्यवस्था को लेकर के क्षेत्र के भ्रमण पर निकले हुए थे. आने के उपरांत महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल द्वारा कुछ उपद्रवियों के साथ थाना परिसर में पहुंचते हैं और दो ट्रैक्टर को जबरन वहां से छुड़ाकर लेकर चले जाते हैं. जिसका सीसीटीवी फुटेज के आधार पर महाराजगंज सांसद सहित 17 लोगों को नाम जद कर प्राथमिक की दर्ज कराई गई है.

छपरा से प्रभास रंजन की रिपोर्ट