Daesh News

Ram Mandir का अलौकिक दृश्य आया सामने, शानदार बनाया गया है भव्य सोने का दरवाजा

इस वक्त पूरा देश राममय हो गया है. जहां देखो वहां सिर्फ श्रीराम के जयकारों की गूंज सुनाई दे रही है. उत्तर प्रदेश के अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर में होने जा रहे प्राण प्रतिष्ठा समारोह की तैयारियां जोरों पर हैं. यहां तेजी से मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है. प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर जल्द ही निर्माण कार्य को पूरा कर लेने की तैयारियां चल रही है. इसी कड़ी में श्री राम मंदिर में भव्य सोने का पहला दरवाजा लगाया गया है, जो बेहद ही शानदार है. यह दरवाजा हैदराबाद की कंपनी ने तैयार किया है. इसमें तमिलनाडु के कारीगरों ने मशक्कत की, जिसके लिए अयोध्या में इसे बनाने की पूरी तैयारी की गई.

100 साल पुरानी कंपनी अनुराधा टिंबर ने किया तैयार

राम मंदिर के इन सोने के दरवाजों को हैदराबाद की 100 साल पुरानी कंपनी अनुराधा टिंबर तैयार कर रही है. राम मंदिर में लकड़ी के दरवाजे बनाए जा रहे हैं. इन दरवाजों के लिए अयोध्या में अस्थाई रूप से एक वर्कशॉप चल रही है, जिसमें ये गेट बनाए जा रहे हैं. इस वर्क शॉप में काम कर रहे कारीगरों के मुताबिक, जो दरवाजे बनाए गए हैं, उसे राम मंदिर के दरवाजों की डिजाइन को लेकर विशेष ध्यान रखा गया है. हिंदू धर्म में शुभता के प्रतीक चिह्नों को उकेरा गया है. लकड़ी के दरवाजों पर नक्काशी तमिलनाडु के कारीगरों ने की है. दरवाजों पर नागर शैली के निर्माण की झलक भी देखने को मिलेगी. इन दरवाजों पर सोने की परत चढ़ाई गई है. 

सोने के 13 और दरवाजे लगाए जायेंगे

बता दें कि, मंदिर के गर्भगृह में मुख्य द्वारों की पूजा की जा चुकी है. गर्भगृह के दोनों तरफ दरवाजे लगाए जा रहे हैं. मंदिर निर्माण स्थल के पास वर्कशॉप चल रही है, जिसमें इन दरवाजों को तैयार किया गया है. इन दरवाजों पर कमल दल, हाथी, झरोखे जैसे डिजाइन बने हैं, जो भव्य दिख रहे हैं. आपको यह भी जानकारी दे दें कि, यहां सोने के 13 और दरवाजे लगाए जाने हैं, जिसकी तैयारी हो रही है. इधर, प्राण प्रतिष्ठा से पहले राम भक्तों का अयोध्या पहुंचना शुरु हो गया है. भगवान के भक्त अपने-अपने अंदाज में राम लला के लिए भेंट लेकर अयोध्या पहुंच रहे हैं. 

बच्चे से लेकर बुजुर्ग बनेंगे ऐतिहासिक पल के साक्षी

इस बीच एक और जानकारी हम आपको दे देते हैं कि, 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर धार्मिक अनुष्ठान की शुरुआत 15 जनवरी से ही हो जाएगी. राम मंदिर उद्घाटन के महोत्सव में देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी लोगों को जोड़ने की योजना है. 500 साल के इंतजार के बाद राम लला अपने महल में विराजित होंगे, ऐसे में इस तारीख को सुनहरे अक्षरों में याद किया जाएगा और यही वजह है कि श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को भव्य बनाने के लिए देश-विशेद के 5 लाख मंदिरों में लाइव प्रसारण दिखाया जाएगा. इस दिन 5 लाख मंदिरों में एलईडी के माध्यम से सीधा प्रसारण दिखाया जाएगा, ताकि बच्चे से लेकर बुजुर्गों तक इस ऐतिहासिक पल का साक्षी बन सकें.